क्या 28 सितम्बर को ख़त्म हो जाएगी पूरी दुनिया?

दो अमरीकी ईसाई संतों ने यह भविष्यवाणी की है कि 28 सितम्बर को पूरी दुनिया ख़त्म होने की कगार पर होगी। इन संतों के अनुसार 28 सितम्बर को चंद्रमा पूरी तरह से लाल हो जाएगा जो एक संकेत होगा विनाश का।

Blood Moon’ End The World On 28th September

माना जा रहा है कि पिछले साल के अप्रैल से अब तक चंद्रमा चार बार लाल हो चुका है और 28 तारीक को पूरी तरह लाल होने के बाद भयानक भूकंप और उल्का पिंडों के गिरने की आशंका बढ़ जाएगी।

उन अमरीकी ईसाई संतों के अनुसार यह वो समय होगा जब अरब देशों में युद्ध की स्थिति पैदा होगी और भूकंप के झटके होंगे।

[ जानिये: क्या विभीषण की नाकामी के कारण हुआ था श्रीराम- रावण युद्ध? ]

इन संतों का कहना है कि यह समाय ईसा मसीह के धरती पर आने की सूचना देगा।

Blood Moon’ End The World On 28th September 1

इन अमरीकी ईसाई संतों का नाम मार्क ब्लिज्ट और जॉन हेगी है और इनका दावा है कि 2000 साल में एक बार चाँद का रंग लाल हो जाता है।

उनकी इस भविष्यवाणी ने कारण अमरीकी लोगों में बहुत बेचैनी पैदा ही चुकी इसलिए इसकी गंभीरता को देखते हुए, इन दोनों संतों को अमरीकी पुलिस ने हिरासत में लिया है।

[ जरुर पढ़ें: दिल थाम कर पढ़े ताजमहल की कुछ अनसुनी अनकही बातें ]

जब 1948 में ‘ब्लड मून’ की स्थिति बनी थी, तब इजरायल का जन्म हुआ था और इस साल भी ‘ब्लड मून’ पैगंबर की वापसी ला सकता है, ऐसा दावा है इन दोनों संतो का।

कईं विभिन्न ब्लॉग और साइट पर दुनिया खत्म होने की अटकले 22 से 28 सितंबर के बीच लगाई जा रही है।

सोशल मीडिया में भी इस पर काफी चर्चा हो रही है।

हालांकि नासा ने साफ़ इंकार किया है किसी भी अनहोनी से।

नासा के मुताबिक पृथ्वी पर अगले कई सौ सालों तक इस तरह की कोई भी अनहोनी या आपदा होने की संभावना नहीं है।

यह भी पढ़ें:

Sounds Yuck.. NASA Plans to Make Food Out of Human Waste
Infosys Executive to Make 90 Minute Sanskrit Animation Film